Education Quotes in Hindi

सीखना एक खजाना है जो हर जगह अपने मालिक का साथ देता है।

ज्ञान तभी शक्ति बनता है, जब हम इसे उपयोग में लाते हैं।

हमारी सबसे बड़ी कमजोरी हार मानने में निहित है,
सफल होने का सबसे निश्चित तरीका, हमेशा एक बार और प्रयास करना है।

आपको अपने प्रतिस्पर्धियों से सीखना चाहिए, लेकिन कभी उनकी नक़ल न करें।

शिक्षा का उद्देश्य युवाओं को जीवन भर खुद को शिक्षित करने के लिए तैयार करना है।

शिक्षा का पूरा उद्देश्य दर्पण को खिड़कियों में बदलना है।

मैंने सीखा है कि दुनिया में सबसे अच्छी कक्षा एक बुजुर्ग व्यक्ति के चरणों में है।

आप एक आदमी को शिक्षित करते हैं, आप एक आदमी को शिक्षित करते हैं,
लेकिन अगर आप एक महिला को शिक्षित करते हैं तो आप एक पीढ़ी को शिक्षित करते हैं।

शिक्षा दिमाग को खोलती है और इसका विस्तार करती है।

सीखना सफलता से शुरू होता है, पहली विफलता शिक्षा की शुरुआत है।

शादी इंतजार कर सकती है, शिक्षा नहीं कर सकती।

मानव जाति को नियंत्रित करने की कला पर ध्यान देने वाले सभी लोग इस बात को मानते हैं कि साम्राज्यों का भाग्य युवाओं की शिक्षा पर निर्भर करता है।

शिक्षा अंधकार से प्रकाश की ओर जाने वाला आंदोलन है।

एक पढ़ा-लिखा दिमाग हमेशा जवाब से ज्यादा सवाल करता है।

दुनिया की प्रगति शिक्षा पर लगभग पूरी तरह निर्भर करती है।

शिक्षा स्वतंत्रता के सुनहरे दरवाजे को खोलने की कुंजी है।

शिक्षित होने वाला एकमात्र व्यक्ति वह है जिसने कैसे सीखना है और बदलना सीखा है।

शिक्षा का सर्वोच्च परिणाम सहिष्णुता है।

विद्वान व्यक्ति जानता है कि वह अज्ञानी है।

अगर आपको लगता है कि शिक्षा महँगी है, तो अज्ञान आजमा कर देखें।

जो एक स्कूल का दरवाजा खोलता है, वह एक जेल बंद करता है।

शिक्षा हमारी अपनी अज्ञानता की एक प्रगतिशील खोज है।

शिक्षा बस एक समाज की आत्मा है क्योंकि यह एक पीढ़ी से दूसरी पीढ़ी में गुजरती है।

शिक्षा दूसरों के जीवन में सुधार लाने के लिए और अपने समुदाय और दुनिया को आपसे बेहतर बनाने के लिए है।

बंदूकों से आप आतंकवादियों को मार सकते हैं, शिक्षा से आप आतंकवाद को मार सकते हैं।

केवल शिक्षित ही स्वतंत्र हैं।

एक अच्छी शिक्षा बेहतर भविष्य की नींव है।

शिक्षा एक निरंतर प्रक्रिया है, यह एक साइकिल की तरह है, यदि आप पेडल नहीं घुमाते हैं तो आप आगे नहीं जाते हैं।

शिक्षा में मुख्य रूप से वे चीजें शामिल हैं जिन्हें हमने अनसुना किया है।

शिक्षा जीवन की स्थितियों को ठीक तरह से पूरा करने की क्षमता है।

शिक्षा एक स्थायी सेना की तुलना में स्वतंत्रता की बेहतर सुरक्षा है।

ज्ञान ही शक्ति है, सूचना मुक्ति है, हर समाज में, हर परिवार में शिक्षा प्रगति का आधार है।

शिक्षा भविष्य का पासपोर्ट है, उन लोगों के लिए जो आज इसकी तैयारी करते हैं।

बिना शिक्षा प्राप्त किये कोई भी व्यक्ति अपनी परम ऊंचाइयों को नहीं छू सकता।

शिक्षा ही सफलता की कुंजी है।

शिक्षा सबसे अच्छी मित्र है, एक शिक्षित व्यक्ति का हर जगह सम्मान किया जाता है।

शिक्षा ऐसी होनी चाहिए, जिससे एक विद्यार्थी का शारीरिक, मानसिक और आत्मिक विकास हो सके।

शिक्षा में आपके सारे दुखों को खत्म करने का सामर्थ्य होता है।

हम जितना अध्ययन करते हैं, उतना ही हमें अपने अज्ञान का आभास होता है।

औपचारिक शिक्षा आपका जीवन बना देगी और आधुनिक शिक्षा आपका भाग्य बना देगी।

जब तक शिक्षा का मकसद नौकरी पाना होगा, तब तक देश में नौकर ही पैदा होंगे, मालिक नहीं।

शिक्षा और मेहनत एक ऐसी सुनहरी चाबी होती है, जो बंद भाग्य के दरवाजे बहुत आसानी से खोल देती है।

शिक्षा जीवन के लिए तैयारी नहीं है, शिक्षा ही जीवन है।

शिक्षा की जड़ें कडवी हैं, लेकिन फल मीठा है।

ज्ञान में निवेश सबसे अच्छा ब्याज देता है।

जीवन का रहस्य भोग में नही, बल्कि अनुभव के द्वारा शिक्षा प्राप्ति में हैं।

कष्ट और विपत्ति मनुष्य को सबसे अधिक शिक्षा देते हैं।

यदि मनुष्य सीखना चाहे, तो उसकी हर भूल उसे कुछ शिक्षा दे सकती हैं।

शिक्षा जीवन की परिस्थितियों का सामना करने की योग्यता का नाम हैं।

संसार में जितने प्रकार की प्राप्तियाँ हैं, शिक्षा सबसे बढ़कर हैं।

शिक्षा से बड़ा कोई दूसरा मित्र नही हो सकता हैं।

ज्ञान ही सबसे बड़ी अच्छाई हैं और अज्ञानता ही सबसे बड़ी बुराई हैं।

शिक्षा इंसान को ईश्वर से जोड़ता हैं और शिक्षा से व्यक्ति को परमआनन्द की अनुभूति होती हैं।

शिक्षा से ही समाधान मिलता हैं और समाधान से सुख मिलता हैं,
प्रत्येक व्यक्ति एक सुखी जीवन जीने के लिए ही हर प्रयत्न करता हैं।

दिमाग (मस्तिष्क), भगवान के द्वारा दिया गया सबसे अच्छा उपहार हैं,
इसे शिक्षित जरूर करे।

बिना शिक्षा के मनुष्य, बिना नीव के घर की तरह होता हैं।

मनुष्य के अंदर मानवीय गुणों का विकास करना ही,
शिक्षा का मुख्य उद्देश्य हैं।

शिक्षा में सबसे ज्यादा ताकत होती है, जिससे पूरी दुनिया को बदला जा सकता हैं।

शिक्षा ग्रहण करने में किया गया व्यय धन सबसे ज्यादा मुनाफा देता हैं।

शिक्षा का उद्देश्य केवल और केवल मानव कल्याण होना चाहिए।

शिक्षा के द्वारा ही एक बेहतर सामाज की रचना की जा सकती हैं।

शिक्षा को हर जगह सम्मान मिलता हैं।

शिक्षा से ज्यादा मूल्यवान कोई चीज नही होता है,
इसे केवल परिश्रम के द्वारा ही पाया जा सकता हैं।

जिस शिक्षा से हम अपना जीवन निर्माण कर सके,
मनुष्य बन सके, चरित्र गठन कर सके और विचारों का सामंजस्य कर सके,
वही सच्ची शिक्षा होती हैं।

सफलता की सामग्री में शिक्षा मुख्य तत्व हैं।

जो माता-पिता बच्चो को शिक्षा नही देते हैं,
वे बच्चों के शत्रु के सामान हैं।

शिक्षा (ज्ञान) एक ऐसी वस्तु हैं,
जिसे न तो खरीदा जा सकता हैं न किसी से बाँटा जा सकता हैं।

शिक्षा में बड़ी ताकत होती हैं,
आपके जीवन के सारे दुखो को ख़त्म करने का सामर्थ्य होता हैं।